"बच्चों की डायरी"

नाम - तनिष्का सक्सेना
कक्षा - 10
राम- ईश इंटरनेशनल स्कूल
ग्रेटर नोएडा



सार्थक के द्वारा बनाया गया रोबोट- कक्षा-8


सार्थक का एतिहासिक सिक्कों का संग्रह



कर्मण्य अभिषेक शास्त्री
कक्षा:-* २ *

गायत्री बिष्ट 
कक्षा :- दूसरी 
रचना का विषय :- मेरी माँ

सार्थक
कक्षा-8



roopam chasta 8 class

तनिष्का सक्सेना 
कक्षा 11


मिताली


वैष्णवी द्वारा बनाई गई पेन्टिंग


 Shreshth Madaan द्वारा लिखी गई कविता।


श्रेष्ठ मदन का आर्ट 



Tripti Nema MahuleTripti and 120 others joined "भावों के मोती" within the last two weeks. Give them a warm welcome to your community! मेरी बिटिया मोक्षिमा की लेखनी से...
"तुलसी रंगत" ई पत्रिका में नवांकुर" होने का गौरव
पिछले वर्ष जब वो 7th में थी






Sangeeta Joshi Kukreti ये चित्र मेरी बेटी मेधावी कुकरेती, कक्षा 8,ऐन मेरी स्कूल, देहरादून... द्वारा बनाया गया है!






Bk Shobha मेरी बेटी सृष्टि द्वारा निर्मित painting .
मेरी बेटी को reading, paintings, listening to music and plying guitar का शौक है l









Meri bitiya Shambhavi ki banayi painting










सके अंतर्गत मेरा पुत्र अवनींद्र मधुरेश गिरी द्वारा रचित एक कविता पोस्ट कर रही हूं । आप सभी गुणी जनों से अनुग्रह है कि वो अपना स्नेहाषीश दें ताकि इसकी भी साहित्यिक यात्रा अनवरत चलती रहे।

गुरुदक्षिणा 

-------------------------------------
हाथ पकड़ लिखना सिखलाया

डांट-डपट समझाया है,

हर गलती पर डांट पिलायी 

पकड़ कान बतलाया है

बौद्धिक क्षमता को जिसने

घिस-घिसकर 

चमकाया है

हर डांट-फटकार से जिसने

रास्ता सही दिखलाया है।
 
होने को अमर किताबों में
 
बार-बार उकसाया है

नन्हे-से कोमल करों को जिसने

पत्थर-सा कड़ा बनाया है 

जिसने तोतली बोली को 
ज्ञान का रस पिलाया है, 

शिष्यों को सही राह देकर
अपनी पहचान बताया है।

चाहे नहीं ओ बंगला गाड़ी 

गुरुदक्षिणा रूप में, 

चाहा है छोटा उजियारा 

अपने मन के कूप में।

हर गुरु की चाह एक ही 

बने मेरा शिष्य महान,
 
अपनाकर मेरे सद्गुणों को 

बढ़ाए मेरी मान।

चाहे, हर पल बढ़े हमेशा 

पलकों से मुझे हटाए बिना, 

व्यर्थ ही डूबे हो सोच में क्यूँ तुम 

यही है गुरु की गुरुदक्षिणा।
------------------------------------------

-- अवनींद्र मधुरेश गिरी

कक्षा-11

राकेश निकेतन
 
नरगी जीवनाथ 

मुजफ्फरपुर, बिहार 
843123



मेरी बिटिया नेहा द्वारा कक्षा 9th में बनाया गया चित्र ।।।।







मेरी पुत्री प्राची पालीवाल द्वारा बनाया गया जब वह क्लास 9वीं में पढ़ती थी



मेरी बेटी शाम्भवी द्वारा पर्यावरण संरक्षण पर बनाया गया चित्र।










Rekha Ravi Dutt        







Hema Joshi कक्षा , प्रथम, उम्र पाँच साल
पंडित रीपुन्जय जोशी दो साल की उम्र से भागवत जागरण 



Kusum Pantमेरी बेटी मनोकृति पंत द्वारा बनाया गया पांडा स्केच कक्षा 12Love panda 


मेरी छात्रा भूमिका कक्षा 8 द्वारा लिखी प्रथम कविता

 मेरी छात्र मानसी ,कक्षा 8 द्वारा लिखी कविता  



अनिल कुमार निश्छल हमारे शिष्य vansh kashyap द्वारा बनाया गया




Pathik Rachna ये रंगोली मेरी बेटी ने बनाई





Asha Paliwal PurohitIt's made by elder daughter, 


Kusum Pant डॉ प्रियंका भट्ट 
हमारी भांजी
उम्र 24वर्ष द्वारा बनाई गयी रंगोली






मेरी बेटी मनोकृति पंत द्वारा बनाई गयी रंगोली
कक्षा 12



नाम-मेधावी कुकरेती
कक्षा- 8
स्कूल-ऐन मेरी (देहरादून)


 प्रिय मित्रों,वन्दन।
Renu Ranjan जी के पुत्र अवनींद्र जी की कविता "गुरु दक्षिणा"आज अभिनव बालमन में प्रकाशित हुई।
हार्दिक बधाई व शुभकामनाएँ आप दोनो को।









Purnima Sahमेरी बेटी"कल्याणी भकत"के द्वारा बनाया गया जब वह कक्षा 9th. में थी ।पेंसिल आर्ट खाली वक्त में बनाया है। उसने "रविंद्र भारती"से आर्ट में 4th.year complete किया है।










मेरे छ(6)वर्षीय पुत्र रिद्धिमान द्वारा फ्री हैंड ड्राइंग






मेरी बेटी काव्या (क्लास 1) द्वारा बनाया गया सेब का पेड़





















मेरे बेटे मुकुल गर्ग ने ये कविता 8 वर्ष की आयु में लिखी थी अभी इसी महीने वो 10 वर्ष का हुआ है।

क्यूँ मारते हो बेटियों को 

मुझको भी बता दो

एक जनम मिलता है 

खेलते हँसते गुज़ार लो 

इतनी मुश्किल से मिलती हैं 

भाइयों को बहने

बड़ी क़िस्मत से मिलती हैं 

भाइयों को बहने 

बड़ी होकर चली जाती हैं
 
दूसरे घर
 
छोड़ जाती हैं अपने पीछे
 
अपनी प्यारी प्यारी यादें
 
इन बेटियों को थोड़ा प्यार दो

एक जनम मिलता है
 
हँसते खेलते गुज़ार लो ।

नाम - मुकुल गर्ग

कक्षा- पांचवी

डी सी मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल, पंचकूला (हरियाणा)


मेरा बेटा राहुल रावत आयु 11 वर्ष









मेरे साढ़े तीन साल के बेटे नमन द्वारा इस चित्र में रंग भरा गया है







No comments:

" स्वतंत्र लेखन "21अप्रैल 2019

ब्लॉग की रचनाएँ सर्वाधिकार सुरक्षित हैं बिना लेखक की स्वीकृति के रचना को कहीं भी साझा नहीं करें |                                        ...